Connect with us

राजनीतिक रायता

South China Sea विवाद पर ये फेसबुक पोस्ट पढ़ें

ये मामला जुड़ा है समंदर के एक हिस्से से जिसपर अधिकार को लेकर जबरदस्त झगड़ा चल रहा है। इस हिस्से का नाम है “South China Sea.” ये तनाव की वजह है।

Published

on

South China Sea
Image: Wikipedia

एक एनिमेशन फ़िल्म आयी “Abominable” इस फ़िल्म के एक सीन के चलते कुछ समय बाद यह फ़िल्म वियतनाम में बैन हो गयी। उस सीन में था दीवाल पर लगे एक मानचित्र में ‘U’ के आकार में 9 लाइन बनी दिखती है ये 9 लाइन चीन का प्रोपेगैंडा माना जाता है इस प्रोपेगैंडा में एक तरफ़ चीन है दूसरी तरफ है वियतनाम समेत चीन के कई पड़ोसी देश यहाँ तक इस विवाद का असर पूरी दुनिया पर पड़ता है। ये मामला जुड़ा है समंदर के एक हिस्से से जिसपर अधिकार को लेकर जबरदस्त झगड़ा चल रहा है। इस हिस्से का नाम है “South China Sea” ये न केवल चीन और उसके पड़ोसी बल्कि अमेरिका और चीन के बीच भी तनाव की वजह है।

कहां है ये?? क्या है इसका मामला?? आइये विस्तार में समझते है।

दुनिया मे तीन बड़े महासागर है प्रशांत,हिन्द और अटलांटिक महासागर धरती पर समंदर का जितना पानी है वो इन्ही महासागरो के जरिये आपस मे जुड़ा है। इन तीनो में सबसे बड़ा प्रशांत महासागर है। इसी महासागर में पड़ता है साउथ चाइना शी इसे यह नाम यूरोप से आने वाले जहाजियों ने दिया था। वे व्यापार के सिलसिले में यहां आते थे रेशम और चाय जैसे उत्पादन के कारण चीन में उनकी बहुत दिलचस्पी थी। चूंकि समंदर का यह हिस्सा चीन के दक्षिणी दिशा में पड़ता था। सो इसकी पहचान के लिए उन्होंने इसे South China Sea कहना शुरू कर दिया। फिर यही नाम लोकप्रिय हो गया।

चीन के अलावा इस इलाके में औऱ भी कई देशों की बसाहट है। करीब 36 लाख स्कावर्ड किलोमीटर में फैले इस हिस्से के उत्तर में पड़ता है चीन और ताईवान दक्षिण में है इंडोनेशिया और पश्चिम की दिशा में पड़ता है वियतनाम,मलेशिया और सिंगापुर और पूर्व में फिलीपींस है।

समंदर के हिस्से की सबसे बड़ी एहमियत है समुद्र के रास्ते होने वाले व्यापार में समझिये की समंदर के रास्ते होने वाला कच्चे तेल का कारोबार इसका 30 फ़ीसदी और प्राकृतिक गैस का कारोबार इसका 40 फ़ीसदी से ज्यादा हिस्सा इसी रुट से होकर गुजरता है अगर क्रूड ऑयल और गैस के साथ बाकी चीजों की आवाजाही शामिल करें तो इस रूट से तीन ट्रिलियन डॉलर यानी लगभग 2 लाख अरब रुपये से ज्यादा का अंतराष्ट्रीय समुद्री व्यापार होता है।

गौर करिये मैरीटाइम ट्रेंडिंग तो सिर्फ एक पक्ष है। इसके अलावा भी कई किस्म के ख़ज़ाने है। यहाँ सबसे बढ़कर प्राकृतिक गैस और तेल के भंडार कितना भंडार है इसको लेकर अलग-अलग के अनुमान है। एक मोटा-माटी अंदाज की बात करे तो साउथ चाइना शी में लगभग 500 लाख करोड़ क्यूबिक फिट प्राकृतिक गैस का भंडार है और कच्चा तेल में लगभग साढ़े बारह हज़ार करोड़ बैरल एक बैरल तेल में लगभग 159 लीटर तेल अब हिसाब लगाइए प्राकृतिक संसाधनो की कितनी बड़ी तिजोरी गड़ी है यहाँ और ये हिसाब इतने और यह हिसाब इतने पर खत्म नही होता।

समुद्री व्यापार और कच्चे तेल,गैस के अलावा फिशिंग इंडस्ट्री के लिए भी बड़ी काम की जगह है ये समझिये की दुनिया मे जितनी मछलियां पकड़ी जाती है खाने के लिए उसका लगभग 10 फ़ीसदी हिस्सा साउथ चाइना शी से आता है।

इसके भूगोल को समझा हमने, अर्थव्यवस्था को समझा अब समझते है उस पक्ष को जिसके लिए South China Sea सबसे ज्यादा सुर्खिया बनती है और ये पक्ष जुड़ा है अंतराष्ट्रीय विवाद से यह विवाद जुड़ा है अधिकार क्षेत्र से लगभग सभी देशों का इसपर अधिकार बनता है जो इसके किनारे पर है, लेकिन चीन इसपर गुंडागर्दी करता है साउथ चाइना शी के 70 फ़ीसदी हिस्से पर अपना दावा करता है और इसके लिए चीन आधार बनाता है 73 साल पुरानी एक मानचित्र को.

1947 का यहा मानचित्र बड़ा संदिग्ध है यहां पर साउथ चाइना शी के किनारे-किनारे कुछ छोटी-छोटी 9 लकीरें खींची है ये लकीरें कहलाती है 9 डेस 9 जो ऊपर एनिमेशन फ़िल्म की बात की थी उसके सीन में यही लकीरें थी जिसके चलते कई देशों ने इस फ़िल्म को बैन किया था।

इस मानचित्र पर खींची लाइने चीन की मुख्य भूमि के पास से शुरू होकर वियतनाम,इंडोनेशिया, मलेशिया जैसे बाकी देशों की तटीय सीमा से कुछ दूरी पर होते हुए एक घेरा बनाती है। चीन कहता है कि घेरे में आने वाला पूरा हिस्सा उसका है जाहिर सी बात है बाकी देश उसके दावे से सहमत नही है। वो भी इस इलाके पर अपना अधिकार बताते है और इसी वजह से यह इलाका विवादित है। चीन का दावा संदिग्ध है। इस विवाद से जुड़ा एक और पक्ष भी है इसको भी जानिए।

प्राकृतिक गैस और तेल के आपूर्त भंडार का बड़ा इलाका इस 9 डेस 9 लाइन के अंदर पड़ता है जिसपर चीन अपना दावा करता है और विवाद वाले कुछ प्रमुख इलाके कौन से है??

एक तो है पार्सल आईलैंड दूसरा स्पार्टा आईलैंड इंजेश गार्डन और रीड टेबल माउंट मतलब यह मामला ना कि समुद्री सीमा के जबरन अधिकार का है बल्कि ज़ोर आजमाइश के दम पर प्राकृतिक संसाधनों को हड़पने की कोशिश का भी है।

साउथ चाइना शी में चीन के अनर्गल दावे उसकी आक्रामकता पूरी दुनिया की सरदर्दी बनी है,क्योंकि चीन कहता है यह उसका संप्रभु इलाका है मतलब इसमें पड़ने वाले द्वीप,पानी,समुद्र की तलछटी,सर के ऊपर का आसमान सब उसका है,उसके दावों की माने तो यहां से गुजरने वाले जहाजों और एयरप्लेन को भी उसकी इजाज़त लेनी होगी। यह दावा अंतराष्ट्रीय कानूनों के विरुद्ध है।

इस कानून का नाम है “लॉ ऑफ द शी” यानी समंदर का कानून इसको यू समझिये की समुद्र का यह अंतराष्ट्रीय सँविधान है और इसके मुताबिक समुद्र से सटे किसी भी देश के तटीय सीमा से अधिकतम 12 समुद्री मील लगभग 22 किलोमीटर तक का इलाका उसका संप्रभु क्षेत्र माना जाएगा और इसके बाद का इलाका कहलाएगा इंटरनेशनल वॉटर जहां दूसरे देशों के जहाजों की आवाजाही की पूरी छूट होगी। इसके अलावा एक नियम इनोसेंट पैसेंजर का भी है इसके तहत किसी देश का जहाज शांति से किसी दूसरे देश की समुद्री सीमा से गुज़र सकता है। शर्त ये है कि वो जासूसी वगैरहा न करे, न ही वंहा के संसाधनों से छेड़छाड़ करे। साउथ चाइना शी के अधिकांश हिस्से पर अपना दावा ठोककर चीन न केवल अपने पड़ोसियों को परेशान कर रहा है बल्कि फ्री नेगिवेशन के अंतराष्ट्रीय कानूनों पर भी वह आक्रामक है। पिछले कई वर्षों में कई बार चीन ने साउथ चाइना शी से ऊपर गुज़र रहे जहाजों का पीछा किया और उन्हें खदेड़ने और भगाने की कोशिश की उसने अमेरिकी जहाजों के साथ भी ऐसा ही किया। चीन का बर्ताव ऐसा है कि मानो साउथ चाइना शी किसी और दुनिया का भाग हो ऐसी दुनिया का हिस्सा है। ऐसी दुनिया जहां फ्री नेगिवेशन और इनोसेंट पेसेंजर के अंतरास्ट्रीय कानूनो के लिए कोई जगह नही है और उसका यह बर्ताव पूरी दुनिया के लिए खतरनाक है।

ये खतरा तब और बढ़ गया जब चीन ने South China Sea में अपना कृतिम द्वीप बना लिया। 2013 से अबतक यहां लगभग 3200 एकड़ की जमीन बना चुका है। यहाँ उसके बंदरगाह है लाइट हाउस,उड़ानी जहाजों के लिए वनवे है पूरा सैन्य ढांचा है इससे वो इलाके भी है जहां दूसरे देशों का दावा है।

फिलीपींस इस मामले को इंटरनेशनल टेबल पर लें गया। जुलाई 2016 में टेबल का फैसला भी आया इसमें कहा गया चीन का दावा गलत है। उसका कोई ऐतिहासिक आधार नही बनता इस इलाके पर लेकिन चीन ने ये फैसला मानने से इंकार कर दिया। चीन की बढ़ती आक्रामकता से सिर्फ फिलीपींस और इंडोनेशिया जैसे कई देश चौकने हो। अमेरिका,आस्ट्रेलिया,फ्रांस और जापान समेत कई देशों ने इस हिस्से में अपनी गतिविधिया बड़ा दी है।

अमेरिका की भूमिका ज्यादा बड़ी है, फिलीपींस, सिंगापुर, वियतनाम समेत South China Sea के कई दावेदारों के साथ अमेरिका सहयोग करता है। आवाजाही का अधिकार बनाये रखने के लिए अमेरिका यहां लगातार चुनोती देता रहता है। चीन को उसके युद्ध पोत, जहाज और एयरक्राफ्ट भी हमेशा मौजूद रहते है। इन सब के बीच एक बड़ा झटका आता है और समीकरण बदल जाते है।

यह झटका जुड़ा है कोरोना आपदा से अमेरिका समेत बाकी सब देश कोरोना से निपटने में लगे थे और इसका फायदा उठाकर चीन ने साउथ चाईना शी में अपनी गतिविधिया बढ़ा दी। जहाज तैनात कर दिया,दमखम दिखाने के लिए नोसेनिको अभ्यास भी कर लिया और हद तो तब हो गई जब अप्रैल 2020 में उसने वियतनाम की एक मछली पकड़ने वाली नोका को डूबो दिया। वियतनाम ने विरोध किया कहा चीन हमारी सम्प्रभुता का उलंघन कर रहा है। फिलीपींस के इस मामले में वियतनाम ने भी उसका समर्थन किया है।

भारत की तरफ़ से भी गतिविधियां हुई है। 4 जून को भारत और आस्ट्रेलिया के बीच द्विपक्षीय सैन्य समझौते हुए। ये समझौते इंडो पैसिफिक यानी हिन्द औऱ प्रशांत इलाके में आपसी सैन्य समझौते से जुड़े है साउथ चाईना शी में इसी हिस्से में पड़ता है दोनों देशों ने कहा है कि वो इंडो पैसिफिक इलाको में जहाजों और विमानों की स्वतंत्रता आवाजाही का समर्थन करते है। इस समझौते के बाद में जारी बयान में कहा गया भारत और आस्ट्रेलिया इस इंडो पैसिफिक इलाके में मुख्य और कानून सम्मत माहौल बनाने के लिए आपस मे समझौते करेगा। भारत एक बड़ी क्षेत्रीय ताकत है इस लिए वो चीन की आक्रमकता से निपट रहे अमेरिका,आस्ट्रेलिया, जापान जैसे देशों का स्वाभाविक मित्र बन गया है। ये मित्र देश चीन के आगे साझा मोर्चा बना रहे है। इसी के मद्देनजर ये देश इस इलाके में समय समय पर नोसैनिक अभ्यास भी करते रहते है। पिछले कुछ समय से इन मामले में भारत की हिस्सेदारी भी बड़ी है।

2019 में जब अमेरिका, फिलीपींस,जापान की नोसेनाओ ने साउथ चाइना शी में मिलकर नेगीवेट किया तब भारत ने भी उनके साथ शामिल हुए और बदले नोसैनिक सहयोग की यह मिसाल है सालाना मालाबार अभ्यास जिसमे भारत,अमेरिका और जापान की सेनाएं मिलकर सैन्य अभ्यास करती है और आस्ट्रेलिया भी इसमे शामिल होना चाहता है।

कई बार देशों के बीच एकता बढ़ाती है जैसे द्बितीय विश्व युद्ध मे जर्मनी और जापान से लड़ने के लिए अमेरिका और सोवियत रूस एक टीम में हो गए थे। चीन जिस राह पर आगे बढ़ रहा है इसे रोकने के लिए अंतरास्ट्रीय सहयोग के अलावा दूसरा कोई और उपाय नही है।

इतना तो तय है की भारत के साफ़ इरादे चीन समझ चुका है अब ये सीमा पर बच्चों जैसे अर्नगल भी बन्द कर देगा। क्योंकि जान चुका है नया भारत किसी के आगे नही झुकेगा🙏

जय हिंद

सागर कुमार वर्मा

सागर कुमार वर्मा की फेसबुक वॉल से साभार

Advertisement
वायरल बवाल3 days ago

बाल कटाते हुए बच्चे ने दिए ऐसे expressions, खूब देखा जा रहा है ये video

मनोरंजन मसाला5 days ago

कटरीना कैफ का हुआ कोरोना टेस्ट, Video शेयर कर बताई ये वजह

ताज़ा तस्वीरें6 days ago

पुराने अंदाज में नजर आईं मल्लिका शेरावत, शेयर की बोल्ड तस्वीर

तेलुगू फिल्मों में धूम मचाने को तैयार मेरठ की अर्चना गौतम
मनोरंजन मसाला3 months ago

तेलुगू फिल्मों में धूम मचाने को तैयार मेरठ की अर्चना गौतम

जिसके लिए मास्टर भी कहते इसे ना पढ़ाना, आज जन्मदिन मना रहे हैं वो अमित भड़ाना
मनोरंजन मसाला3 months ago

Happy B’Day Amit Bhadana: जिसके लिए मास्टर भी कहते इसे ना पढ़ाना, आज जन्मदिन मना रहे हैं वो अमित भड़ाना

न्यूज़ एंकर ने सेना जैसी वर्दी पहनकर किया प्रोग्राम, सोशल मीडिया पर यूज़र्स ने लगाई लताड़
ट्रोल तमाशा3 months ago

न्यूज़ एंकर ने सेना जैसी वर्दी पहनकर किया प्रोग्राम, सोशल मीडिया पर यूज़र्स ने लगाई लताड़

इस दिन मुम्बई पहुंचेंगी कंगना रनौत, बोलीं- किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले
मनोरंजन मसाला3 months ago

इस दिन मुम्बई पहुंचेंगी कंगना रनौत, बोलीं- किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले

Chinese Apps ban
Tech टका टक3 months ago

India China Faceoff: अब मोदी सरकार ने बैन की 118 मोबाइल Apps, देखें पूरी लिस्ट

Twitter में आया Quote Tweets फ़ीचर, जानें कैसे कर सकेंगे इस्तेमाल
Tech टका टक3 months ago

Twitter में आया ये नया फ़ीचर, जानें कैसे कर सकेंगे इस्तेमाल

JEE-NEET 2020: अगर स्थगित नहीं हुई परीक्षाएं तो छात्रों की ऐसे मदद करेंगे सोनू सूद
ट्रेंडिंग तड़का3 months ago

JEE-NEET 2020: अगर स्थगित नहीं हुई परीक्षाएं तो छात्रों की ऐसे मदद करेंगे सोनू सूद

Sadak 2: पाकिस्तानी म्यूज़िक प्रेड्यूसर ने 'सड़क 2' पर लगाया चोरी का आरोप
ट्रोल तमाशा3 months ago

Sadak 2: पाकिस्तानी म्यूज़िक प्रेड्यूसर ने ‘सड़क 2’ पर लगाया चोरी का आरोप

विराट कोहली ने इस क्रिकेटर को बताया दुनिया का सबसे बेहतरीन गेंदबाज!
खेल खिलाड़ी3 months ago

विराट कोहली ने इस क्रिकेटर को बताया दुनिया का सबसे बेहतरीन गेंदबाज!

क्या सरकार छात्रों को मुफ्त स्मार्टफोन दे रही है? जानिए सच
राजनीतिक रायता3 months ago

Fact Check: क्या सरकार छात्रों को मुफ्त स्मार्टफोन दे रही है? जानिए सच

Fact Check: क्या कोरोना मरीजों के लिए 1.5 लाख रूपए दे रही है मोदी सरकार? जानिए सच
राजनीतिक रायता3 months ago

Fact Check: क्या कोरोना मरीजों के लिए 1.5 लाख रूपए दे रही है मोदी सरकार? जानिए सच

ट्रोल तमाशा3 months ago

Sadak 2 Trailer: दुनिया में सबसे ज्यादा नापसंद किया जाने वाला वीडियो बना ‘सड़क 2’ का ट्रेलर, 10 दिन में मिले इतने Dislike

LIVE: देखिए, लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्बोधन
ट्रेंडिंग तड़का3 months ago

LIVE: देखिए, लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्बोधन

युजवेंद्र चहल की मंगेतर धनश्री वर्मा ने पीपीई किट पहनकर एयरपोर्ट पर किया डांस, वायरल हुआ वीडियो
खेल खिलाड़ी4 months ago

युजवेंद्र चहल की मंगेतर धनश्री वर्मा ने PPE किट पहनकर एयरपोर्ट पर किया डांस, वायरल हुआ video

Abhishek Bachchan in Breathe
मनोरंजन मसाला5 months ago

रिलीज हुआ ‘Breathe – Into The Shadows’ का Trailer, देखकर रोंगटे खड़े हो जाएंगे

वीडियो वर्ल्ड5 months ago

घर में अकेले थे जीजा-साली, फिर हुआ ऐसा… देखिए ये मजेदार वीडियो

A Musical Tribute to Sushant Singh Rajput from T-Series
मनोरंजन मसाला5 months ago

देखिये सुशांत सिंह राजपूत के Top 10 बेहतरीन गाने

sonu sood song meri maa
मनोरंजन मसाला6 months ago

सोनू सूद को समर्पित गाना ‘मेरी माँ’ हुआ रिलीज, देखकर रो पड़ेंगे आप

Bambiha Bole Punjabi Song
मनोरंजन मसाला6 months ago

YouTube पर तहलका मचा रहा है ये गाना, सिर्फ 24 घंटों में ही मिले एक करोड़ से ज्यादा Views

Meri Aashiqui Song
मनोरंजन मसाला6 months ago

YouTube पर छाया जुबिन नौटियाल का नया गाना ‘मेरी आशिक़ी’, अब तक 3.8 करोड़ लोगों ने देखा

LOCKDOWN SONG | DARD DA DARIYA-YAKOOB-SATNAM SINGH MANAK
मनोरंजन मसाला6 months ago

प्रवासी मज़दूरों का दर्द बयां करता ये गाना आपको देखना चाहिए

Ghar aaya mera pardesi new song
वीडियो वर्ल्ड6 months ago

धूम मचा रहा है सोशल मीडिया स्टार्स का ये गाना, देखें वीडियो

Advertisement

Trending